‘हारे हुए योद्धा की तरह बोले पीएम मोदी’

पटना : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संबोधन पर विभिन्न राजनीतिक दलों ने प्रतिक्रिया व्यक्त की है. इसी क्रम में जन अधिकार पार्टी (लो.) के संरक्षक और मधेपुरा सांसद पप्पू यादव ने प्रधानमंत्री के संबोधन को ‘भावहीन’ और ‘प्राणहीन’ बताया है. उन्होंने फेसबुक पोस्ट कर पीएम के भाषण पर अपनी निराशा जाहिर की है. आगे पप्पू यादव के ही शब्दों में पढ़ें उन्होंने पीएम के भाषण पर क्या कहा :

‘प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी जी का भाषण ‘भावहीन’ और ‘प्राणहीन’ था . बिलकुल ‘पराजित योद्धा’ की तरह बोले . उनके पास कुछ भी नहीं बोलने और देश को बताने के लिए था . हारे प्रधान मंत्री देश को सच बताने का साहस नहीं कर सके . देश जानना चाहता था कि कितना ‘काला धन’ पीएम निकाल सके . पर वे बता नहीं सके . देश ने जान लिया कि मोदी जी की नोटबंदी की हवा निकल गई .

बेनामी संपत्ति पर प्रहार करने का साहस भी आज पीएम नहीं कर सके . पूरे भाषण में वे यह नहीं कह सके कि इतने दिनों में बेनामी संपत्ति वालों की कमर तोड़ देंगे . खैर,इस मामले की लड़ाई मैं और हमारी पार्टी जन अधिकार पार्टी (लो) लड़ने को तैयार है . रोड से कोर्ट तक महाभारत की लड़ाई लड़ेंगे .

मोदी जी,नोटबंदी के फैसले से पहले आपने तैयारी नहीं की,पर जब पूरा देश पोलिटिकल पार्टियों की फंडिंग को आरटीआई और टैक्स के दायरे में लाना चाहता है,तो आप बहस की बात कर भाग निकले . इसमें बहस की कौन-सी जरुरत है . आप बहुमत में हैं,देश चाहता है,तो फिर आप निर्णय क्यों नहीं ले लेते . बहस तो कई दशकों से चल रही है . कहीं ऐसा तो नहीं कि आपकी पार्टी को सबसे अधिक अज्ञात श्रोतों से चंदा मिलता है,इसलिए मामले को आगे नहीं बढ़ाना चाहते .

नोट बंदी ने देश भर में सैकड़ों लोगों की जान ले ली,लेकिन इनके लिए आपके मुंह से सहानुभूति के एक शब्द नहीं निकले,यह आपके निरंकुश होने का प्रमाण है . समय रहते अपने को सुधारिये मोदी जी,देश झांसे के दिनों को बहुत अधिक नहीं झेलेगा .’

यह भी पढ़ें :

पीएम का संबोधन : लालू बोले, टांय-टांय फिस

PM का देश को संबोधन : छोटे व्यापारियों को दो करोड़ का लोन, घर बनाने पर ब्याज घटा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *